इंद्रप्रस्थ विश्व संवाद केन्द्र


3 जनवरी। मास्क नहीँ तो टोकेंगे , कोरोना का हम रोकेंगे ; के नारे के साथ लोगों को किया जा रहा है जागरूक  

कनॉट प्लेस सहित बड़े बाज़ार , रेल स्टेशनों इत्यादि पर किया जा रहा है आयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण

अधिक भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर हैंड सेनिटेशन , जागरूकता , आयुर्वेदिक काढ़ा एवं मास्क का वितरण

 

 

 

 

 

दिल्ली: पिछले कुछ दिनों से राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे है। कोरोना के नए स्वरुप ओमिक्रोन के अति संक्रामक होने के कारण कोरोना की तीसरी लहर की आशंका पैदा हो गई है। ऐसे में   कोरोना के संभावित लहर के आभास के साथ ही सेवा भारती दिल्ली प्रान्त ने भी उसके विरुद्ध लड़ाई के लिए अपनी कमर कस ली है।

 

 

 

कोरोना के बढ़ते मामले के साथ ही सेवा भारती ने चेतना व स्वास्थ्य प्रहरी के नाम से अपने दो अभियानो को प्रारंभ कर दिया। पिछले अनुभव के आधार पर कोरोना के विरुद्ध चेतना अभियान के अंतर्गत जनजागरण का कार्य प्रारंभ किया गया है। अधिक भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर काडा वितरण , मास्क वितरण , हैंड सेनिटेशन , टेम्प्रेचर गन से शरीर का तापमान नापने आदि का कार्य सेवा भारती के माध्यम से प्रारंभ किया गया है। मास्क नहीँ तो टोकेंगे , कोरोना का हम रोकेंगे ; के नारे तथा विभिन्न तरह के पोस्टरस , पत्रक व सोसल मीडिया पोस्ट के द्वारा भी सेवा भारती के कार्यकर्ता कोरोना के विरुद्ध जागरूकता का अभियान चला रहे है।   सेवा भारती द्वारा रेलवे स्टेशन , प्रमुख बस स्टैंड , मेट्रो स्टेशन तथा अधिक भीड़ भाड़ वाले बाजारों में विशेष जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

 

 

 

सेवा भारती द्वारा लोगों के बीच आयुर्वेदिक काढ़ा का भी वितरण किया जा रहा है। आयुर्वेदिक काढ़ा से प्राकृतिक रूप से इम्युनिटी बनती है जो कोरोना सहित अन्य बीमारियों को दूर रखने में सहायक होता है।

      

कोरोना की दूसरी लहर की भयावहता को देखते हुए सेवा भारती ने तभी से कोरोना की किसी संभावित लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी थी। देश में कोरोना की दूसरी लहर के पश्चात सेवा भारती ने सम्पूर्ण दिल्ली में 2000 लोगो को 7 दिन की एवं 6000 कार्यकर्ताओं को 1 दिन की स्वास्थ्य रक्षक का प्रशिक्षण दिया था। आपात स्थिति में उनकी सेवाओं का लाभ समाज को कैसे मिल सकता है उसकी योजनाओं पर भी कार्य किया जा रहा है। स्वास्थ्य प्रहरी के रूप में सेवा भारती द्वारा उनको विभिन्न स्थानों पर सजग किया जा रहा है।

 

 

 

सेवा भारती न दिल्ली के फ्रंट लायन वर्कर्स ( दिल्ली पुलिस) के लिए उत्तरी दिल्ली में एक ऑक्सीजन प्लांट की व्यवस्था की है।

 

 

 

दिल्ली में सेवा भारती ने 6 एम्बुलेंस , 5 मेडिकल वेन , एक हॉस्पिटल , 2 डायग्नोस्टिक सेंटर्स , 22 मेडिकल डिस्पेंसरी को कोरोना से लड़ने के लिए सक्रिय कर दिया है।

 

 

 

सेवा भारती सम्पूर्ण दिल्ली में तत्काल 8 आइसोलेशन सेंटर्स को भी प्रारंभ करने की स्थिति में है। इन सेंटर्स पर 200 ऑक्सीजन व 300 सामान्य बेड्स उपलब्ध रहेंगे।