इंद्रप्रस्थ विश्व संवाद केन्द्र


केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद भारत में तो संघ को लेकर आकर्षण बढ़ता दिखा ही है लेकिन विदेशों में भी लोग संघ के बारे में जानने के इच्छुक दिख रहे हैं। संघ ने अपनी किताबें ऑनलाइन अपलोड की है और इन्हें फ्री में डाउनलोड करने का विकल्प दिया है। 67 किताबों में से सबसे ज्यादा डाउनलोड हो रही टॉप- 10 किताबों में संघ संस्थापक पर लिखी किताब ' डॉ. हेडगेवार- परिचय एवं व्यक्तित्व ', ' संघ प्रार्थना ' और ' कृतिरूप संघ दर्शन ' भी शामिल है। जो लोग किताबें डाउनलोड कर रहे हैं या ऑनलाइन पढ़ रहे हैं उनमें ज्यादातर भारत में ही हैं लेकिन यूएस , अर्जेंटीना , इंडोनेशिया में भी संघ के बारे में लिखी गई किताबें पढ़ने की दिलचस्पी दिख रही है।

 

संघ के दिल्ली प्रांत प्रचार प्रमुख राजीव तुली ने बताया कि करीब 2 महीने पहले 67 किताबें अपलोड की गई। जिन्हें लोग फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं या पढ़ सकते हैं। 36 देशों में लोग इन्हें डाउनलोड कर रहे हैं। इनमें भारत के अलावा यूएस , अर्जेंटीना , इंडोनिशिया , ऑस्ट्रेलिया , ऑस्ट्रिया , बेलारूस , बेल्जियम और वियतनाम मुख्य हैं। उन्होंने बताया कि अबतक कुल 25 हजार से ज्यादा डाउनलोड हो गए हैं। एक लाख 17 हजार लोग किताब विजिट कर चुके हैं और 6 लाख 90 हजार बार पेज विजिट हो चुका है।

 

तुली ने बताया कि सबसे ज्यादा जिन किताबों में लोग दिलचस्पी दिखा रहे हैं उसमें एक किताब संघ संस्थापक के जीवन और उनके व्यक्तित्व के बारे में लिखी गई है। एक किताब संघ की प्रार्थना पर है। संघ की प्रार्थना संस्कृत में है लेकिन इस किताब में उस प्रार्थना को एक-एक वाक्य कर हिंदी में समझाया गया है। इसी तरह ' कृतिरूप संघ दर्शन ' नाम की किताब में संघ के कामकाज के बारे में और संघ के आनुषांगिक संगठनों (फ्रंटल ऑर्गनाइजेशन) के बारे में बताया गया है।

 

साभार : नवभारत टाइम्स